Saturday, February 23, 2019

टाइटैनिक के बारे में 10 अनोखे तथ्य


1. टाइटैनिक पर क्षमता से काफी कम जीवन रक्षक बोट रखे गए थे I 3,550 लोगो के क्षमता वाले इस जहाज पर जितने बोट रखे गए थे उससे सिर्फ 1,000 लोगो को ही बचाया जा सकता था I हालाँकि डूबते समय और भी कम लोगो को बचाया जा सका ऐसा इसलिए क्योकि बोट पूरी तरह से भरे नहीं गए I  टाइटैनिक पर क्षमता से काफी कम बोट रखने के दो प्रमुख कारण थे पहला टाइटैनिक बनाने वालो को पूरा विश्वास था कि यह जहाज डूब नहीं सकता और दूसरा ज्यादा बोट रखने से टाइटैनिक का लुक ख़राब हो जायेगा I
2. टाइटैनिक डूबने से 14 साल पहले ही एक अमेरिकी लेखक मॉर्गन रॉबर्ट्सन ने एक उपन्यास लिखा 'द रेक ऑफ़ द  टाइटन' I जिसकी कहानी और पात्र हूबहू टाइटैनिक से मिलते जुलते थे I रॉबर्ट्सन के उपन्यास में इंग्लैंड का एक विशालकाय जहाज अप्रैल के महीने में अटलांटिक महासागर में दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है और सभी यात्री मारे जाते है वास्तविक में भी यही हुआ यह अपने आप में एक बड़ा अचंभित करने वाला था I
3. टाइटैनिक का मतलब होता है विशालकाय दानव यह नाम इसलिए दिया गया था क्योकि टाइटैनिक काफी विशालकाय जहाज था जिसके डूबने की सम्भावना ही नहीं थी I 
4. टाइटैनिक में यात्रियों का मनोरंजन करने के लिए म्यूजिक बैंड रखा गया था जिसमे कुल मिलाकर 7 लोग थे I जब टाइटैनिक डूबने लगा तो यात्रियों में भगदड़ मचने लगा I भगदड़ को रोकने के लिए म्यूजिक बैंड ने म्यूजिक बजाना शुरू किया I लेकिन भगदड़ को रोक नहीं पाए फिर भी जहाज के पूरी तरह से डूबने तक म्यूजिक बजाते रहे I इन सभी की मृत्यु डूबकर हो गई थी, मरने के बाद में इन सातो लोगो को इंग्लैंड में हीरो की तरह सम्मान दिया गया I
5. टाइटैनिक के दुर्घटना के लिए जहाज के कप्तान स्मिथ को सीधे तौर पे जिम्मेदार ठहराया गया I क्योकि स्मिथ ने टाइटैनिक के स्पीड को तेज कर दिया था और टकराने से पहले स्पीड कम भी नहीं किया इसके अलावा स्मिथ को दिशाओ की सही जानकारी नहीं थी I
6. टाइटैनिक का निर्माण उच्च वर्ग को ध्यान में रखकर ही किया गया था I यही कारण है इस वर्ग का खास  ध्यान रखा गया था स्विमिंग पूल, बार, सिगरेट पीने के लिए अलग से केबिन, संगीत से लेके हर तरह की व्यवस्था किया गया था I यहाँ तक की क्षमता से काफी कम जीवन रक्षक बोट रखने का निर्णय भी इसी लिए लिया गया था ताकि इस वर्ग को घूमने फिरने में कोई तकलीफ न हो, जो काफी खतरनाक साबित हुई I
7. जिस टाइटैनिक को कभी न डूबने वाला जहाज माना जाता था I वह अपने पहले ही यात्रा में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था I अपने पहले सफर में टाइटैनिक इंग्लैंड के सॉउथम्पटन शहर से अमेरिका के न्यूयोर्क शहर के लिए निकला था I जब यह अटलांटिक महासागर में आइसबर्ग से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था I
8. सरकारी आंकड़े के अनुसार टाइटैनिक डूबने से करीब 1,700 लोगो की मौत हुई थी मरने वालो में ज्यादातर पुरुष यात्री थे I क्योकि महिलाओ और बच्चो को काफी हद तक लाइफ बोट से रवाना कर दिया गया था I
9. टाइटैनिक का फर्स्ट क्लास का किराया करीब 1,10,000 डॉलर था जबकि थर्ड क्लास का किराया करीब 140 डॉलर और यही कारण है कि थर्ड क्लास की सुविधा का बिलकुल भी ध्यान नहीं रखा गया था I
10. उच्च वर्ग में यात्रा करने वाले ज्यादातर लोग व्यवसायी थे, जबकि थर्ड क्लास में ज्यादातर प्रवासी थे जो अपनी आजीविका के लिए न्यूयोर्क जा रहे थे I

No comments:

Post a Comment